प्रादेशिक

हूल दिवस पर सिद्धू कान्हू याद किए गए,आंदोलन पर हुई ख़ास चर्चा

Spread the love

जामताड़ा,ख़ास बात इंडिया,गौतम ठाकुर की रिपोर्ट‌:आज दिनांक 30 जून 2021 को हूल दिवस के मौके पर जिला अंतर्गत सिदो-कान्हो के प्रतिमा पर उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री फ़ैज़ अक अहमद मुमताज (भा.प्र.से.) ने माल्यार्पण कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की. मौके पर उप विकास आयुक्त  जावेद अनवर इदरीसी, अपर समाहर्ता  सुरेन्द्र कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी श्री संजय पांडेय एवं कोषागार पदाधिकारी  प्रधान मांझी ने भी माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किया.मौके पर उपायुक्त ने संथाल हूल के अमर शहीदों को याद करते हुए कहा कि हूल क्रांति, अंग्रेजों की गुलामी एवं शोषण के खिलाफ आजादी के लिए जनजातीय समाज की प्रथम जनक्रांति थीउन्होंने कहा कि आजादी के लिए सिदो कान्हू के नेतृत्व में वीर सेनानियों ने 30 जून, 1855 में अंग्रेंजो के खिलाफ क्रांति का बिंगुल फूंका था। उन्होंने कहा कि हूल क्रांति के वीर शहीदों की कुर्बानी को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। उपायुक्त ने बताया कि अमर शहीद सिदो-कान्हो नेआदिवासियों और गैर-आदिवासियों को महाजनों और अंग्रेजों के अत्याचार से मुक्ति दिलाने में सिदो-कान्हो ने अहम भूमिका निभाई थी.अंग्रेजों के खिलाफ जिस तरह सिदो-कान्हो, चांद भैरव, फूलो झानो ने मोर्चा खोला था और उसके छक्के छुड़ा दिये थे उसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि संथाल सहित पूरे झारखंड में लोग इन्हें भगवान की तरह पूजते हैं.इस मौके पर उप विकास आयुक्त श्री जावेद अनवर इदरीसी, अपर समाहर्ता श्री सुरेन्द्र कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी श्री संजय पांडेय एवं कोषागार पदाधिकारी श्री प्रधान मांझी सहित अन्य उपस्थित थे.

4 Replies to “हूल दिवस पर सिद्धू कान्हू याद किए गए,आंदोलन पर हुई ख़ास चर्चा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *