बड़ी खबर

सरकारी रास्तों सहित नालों पर कब्जा कर रहे स्थानीय लोग

Spread the love

आसनसोल,ख़ास बात इंडिया: आसनसोल के पंचगछिया ग्राम पंचायत अंतर्गत नया बस्ती इलाके में सरकारी रास्तों एवं नालों पर स्थानीय निवासी विनय पांडे द्वारा अवैध कब्जे पर पंचायत प्रसाशन ने चुप्पी साधी नजर आ रही हैं. गौरतलब हो कि नई बस्ती इलाके के बड़ा खटाल जाने की रास्ता के किनारे पंचायत द्वारा बीते 30 वर्ष पूर्व जल निकासी हेतु नाला बनाया गया था. जहां से इलाके के सभी लोगों के घरों का जल निकास होता था. लेकिन वर्तमान समय में नई बस्ती के स्थानीय निवासी विनय पांडे द्वारा अवैध रूप से सरकारी जमीन पर निर्मित नाले के ऊपर कब्जा कर स्वयं के हित में कार्य कर रहे हैं. सरकारी नाले के ऊपर कब्जा करने के कारण बारिश के दिनों में इलाके के बहुत से घरों का जल निकासी में समस्या का सामना करना पड़ सकता है. वही मालूम हो कि स्थानीय निवासी विनय पांडे और स्थानीय निवासी रेनू पांडे के साथ जमीनी विवाद को लेकर कोर्ट में केस चल रहा है. जहां विनय पांडे द्वारा अतिक्रमण करने का आरोप लगाते हुए श्रीमती रेनू पांडे ने आसनसोल जिला कोर्ट में केस दर्ज करवाया है. लेकिन केस दर्ज होने के बावजूद भी प्रशासन की नाक के नीचे कब्जे का कार्य चलता है जा रहा है. वही नाले के ऊपर अवैध कब्जा करने के कारण स्थानीय लोगों में रोष दिख रहा है लेकिन विनय पांडे के डर के कारण कोई विरोध नहीं कर पा रहे हैं. उपरोक्त विषय में विनय पांडे की ओर से कहा गया कि वे अपनी घर के समीप रास्तों को वृहद करने हेतु और अपने वाहन को पार्किंग लगाने हेतु यह कार्य कर रहे हैं. वही विनय पांडे के पड़ोसी श्रीमती रेनू पांडे ने आरोप लगाया है कि विनय पांडे द्वारा सरकारी जगहों पर कब्जा कर अवैध रूप से कार्य कर रहे हैं. जिस पर प्रशासन पूरी तरीके से चुप नजर आ रही है. उपरोक्त विषय पर पंचगछिया ग्राम पंचायत के प्रधान मनोरंजन बनर्जी ने कहा कि उन्हें इस अतिक्रमण के बारे में कोई संज्ञान नहीं है. मालूम हो कि शिल्पांचल में जिला प्रशासन द्वारा अवैध रूप से कब्जा किए जमीनों पर अतिक्रमण को हटाने को लेकर कार्रवाई की जा रही है. वही पश्चिम बर्दवान जिला अंतर्गत आसनसोल के नया बस्ती इलाके में अतिक्रमण का बोलबाला चल रहा है.

2 Replies to “सरकारी रास्तों सहित नालों पर कब्जा कर रहे स्थानीय लोग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *