समाचार

पत्रकार पर हो रहे हमलों के खिलाफ ओम प्रकाश शर्मा ने लगाई सुरक्षा की गुहार

Spread the love

*पत्रकार के परिवार को सुरक्षा देने की अपील*

आसनसोल: पत्रकारिता की दुनिया में 22 वर्षों से सक्रिय और निष्ठावान पत्रकार ओम प्रकाश शर्मा ने अपने और अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर पुलिस उपायुक्त महोदय, आसनसोल दुर्गापुर पुलिस कमिश्नरेट, को एक आवेदन दिया है। आवेदन की प्रतिलिपि सालनपुर थाना, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री को भी भेजी गई है।आवेदन में उन्होंने पुलिस द्वारा केस में नाम डाल देने की धमकी के बारे में भी जानकारी दी है।शर्मा जी का कहना है कि पिछले कुछ दिनों से उनके और उनके परिवार पर लगातार हमले हुए हैं। दो चार लोग जिनमें रविंद्रनाथ मुखर्जी तथा शत्रुघ्न सिंह अक्सर उनके घर में घुसकर हंगामा तथा मारपीट भी कर चुके हैं और शत्रुघ्न सिंह नामक व्यक्ति मोबाइल भी छीनकर भाग चुके हैं। शर्मा जी का पुराना एम्बेसडर कार भी रूपनारायणपुर निवासी रविन्द्रनाथ मुखर्जी द्वारा जबरन ले जाया गया है। यह जानकारी उन्हें उनके भाई से पुलिसिया पूछताछ के दौरान मिली।शर्मा जी ने अपने आवेदन में बताया कि उनके भाई कृष्ण दास शर्मा, जो सालानपुर पोस्ट ऑफिस में कार्यरत थे, उन पर घोटाले का आरोप है और पुलिस इसकी जांच कर रही है। उन्होंने स्पष्ट किया कि पोस्ट ऑफिस में हुई गड़बड़ी से उनका कोई लेना-देना नहीं है। इसकी जानकारी पहले भी पुलिस को दी जा चुकी है। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस उन पर गड़बड़ी का पैसा निकालने की उस वक्त धमकी दी जब थाने में आरोपी भाई कृष्ण दास से मिलने पहुंचे थे। पुलिस ने कहा की यदि उन्होंने ऐसा नहीं किया तो उनका नाम भी केस में डाल दिया जाएगा। इसके अलावा पुलिस ने कहा की पैसा नही मिला तो आरोपी भाई के साथ उनके भाई पर भी जान का आफत आ सकती है।शर्मा जी ने अपने आवेदन में पुलिस से विनम्रता पूर्वक आग्रह किया है कि बिना किसी प्रमाण के उनका नाम केस में न घसीटा जाए और उनकी छवि को खराब न किया जाए। उन्होंने बताया कि वह एक सच्चे और इमानदार पत्रकार हैं और हमेशा कानून का पालन करते हुए पुलिस का सहयोगी रहे हैं। इसलिए उन्हें बेवजह परेशान न किया जाए।

शर्मा जी ने यह भी उल्लेख किया कि उन्होंने बैंक से पांच लाख रुपये का लोन लिया है, जिसका मासिक ईएमआई 12 हजार रुपये है। उनके घर में एक 90 प्रतिशत मानसिक विकलांग दीदी और एक मानसिक रूप से बीमार भगना रहता हैं, जिनका इलाज रांची में चल रहा है। वे एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं और उन्होंने किसी का पैसा नहीं लिया है।

**आसनसोल के पुलिस उपायुक्त से आग्रह**
शर्मा जी ने अपने आवेदन के माध्यम से पुलिस उपायुक्त से अपील की है कि वे इस मामले को गंभीरता से लें और उनके और उनके परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि एक ईमानदार पत्रकार होने के नाते उनका कैरियर दांव पर न लगाया जाए और बिना किसी प्रमाण के उन्हें किसी भी मामले में न घसीटा जाए।ओम प्रकाश शर्मा ने अपने आवेदन की प्रतिलिपि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और प्रधानमंत्री कार्यालय को भी भेजी है, ताकि उनकी समस्या का समाधान जल्द से जल्द हो सके।

One Reply to “पत्रकार पर हो रहे हमलों के खिलाफ ओम प्रकाश शर्मा ने लगाई सुरक्षा की गुहार

  1. 나는 잠시 시간을 내어 당신이 하고 있는 놀라운 일에 대해 감사의 말씀을 전하고 싶습니다. 귀하의 플랫폼은 저에게 귀중한 리소스가 되었으며 저는 다루는 주제의 범위에 계속해서 놀랐습니다. 지식 추구에 있어 빛나는 모범이 되어주셔서 감사합니다!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *