बड़ी खबर

नौवीं क्लास की छात्रा ने अपनी पांच महीने की भतीजी को पानी मे डुबोकर मारा

Spread the love

बिना किसी को बताए घर से उठा ले गई थी बच्ची अलीशा को उसकी चचेरी बुआ आयशा…

पहले जी भर कर अपने गोद मे खेलाया लाड प्यार भी किया और फिर पानी से भरे सीवर मे डुबोकार हो गई फरार…

14 साल की एक नाबालिक छात्रा की हैरान कर देने वाली क्राइम मिस्ट्री…

बराकर: आसनसोल के कुलटी विधानसभा इलाके मे स्थित बराकर से एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है, जिस घटना मे श्रीमती जरावा देवी बालिका विद्यालय की नौवी की छात्रा आयशा उर्फ़ शिफा प्रवीण ने अपनी चचेरी बहन सोनाली की दूध मुही मासूम बेटी अलीशा को पानी मे डुबोकार बहोत ही बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया, शनिवार देर रात करीब 9 बजे की है, आरोप है की सोनाली अपनी पाँच महीने की मासूम बेटी अलीशा को लेकर अपने पति सद्दाम के साथ अपने ससुराल झारखंड पालाजोड़ी से अपने माता पिता के घर बराकर आई थी, यह सोंचकर की वह अपने माता पिता और अपने सगे सम्बंधियों से मिलकर वापस अपने ससुराल पालाजोड़ी चली जाएगी, सोनाली के अपने माता पिता के घर आने के बाद उसके माता पिता व उसके सगे सम्बंधियों द्वारा खूब प्यार भी मिल रहा था, पर उसी प्यार के बिच कोई उसके हँसते खेलते परिवार को उजाड़ने की साजिस रच रहा था यह सोनाली ने अपने सपने मे भी कभी नही सोंचा था, और वह भी ऐसी ख़तरनाक व दिल दहला देने वाली साजिस रचने वाली उसकी चचेरी बहन होगी यह सोनाली अबतक बिस्वास नही कर पा रही है, की आखिरकार सोनाली ने अपनी नाबालिक चचेरी बहन को जाने अनजाने मे ऐसा क्या नुकसान कर दिया की उसने पल भर मे उसकी दुनिया ही उजाड़ दि, उसकी सारी खुशियाँ ही छीन ली, सोनाली का रो -रोकर बुरा हाल है, वह खुदको संभाल नही पा रही है, उसके पति सद्दाम अपनी मासूम सी फूल जैसी बच्ची के मौत के गम मे मानो पागल हो गए हैं, वह यह कहकर बार -बार दहाड़ लगाकर चीख -चीखकर रो रहे हैं की उनको अब्बा कहने वाला उनकी पत्नी सोनाली को अम्मी कहकर पुकारने वाली उनकी बेटी अब इस दुनिया मे नही रही, वह यह भी कह रहे हैं की काश अगर वह यहाँ नही आते तो आज उनकी मासूम बेटी उनके पास होती, बराकर मे मासूम बच्ची की हत्या की घटना को लेकर पुरे इलाके के लोगों मे उबाल और गुस्से का माहौल है, स्थानीय लोगों ने पुलिस से यह मांग की है की वह मासून बच्ची की हत्या करने वाली उसकी चचेरी बुआ को सख्त से सख्त सजा दिलवाने का काम करें साथ ही उसके माता पिता को छोड़ने को कहे नही तो इलाके के लोग मिलकर खुद से कोई कदम उठाएंगे जिसका जिम्मेवार पुलिस होगी वह इलाके मे शांति चाहते हैं अशांति नही अशांति फैलाने वाले लोग इलाके को कभी शांत नही रहने देंगे इस लिए वह अपने इलाके मे अमन और चैन के लिए प्रशासन से यह गुहार लगा रहे हैं, लोगों का यह भी आरोप है की इस घटना के पीछे हत्या करने वाली लड़की के साथ उसके माता -पिता और भाई भी साथ होंगे, बिना उनकी सहमति या फिर मदद से वह लड़की इस हत्या को अंजाम नही दे सकती, लोगों ने यह भी आरोप लगाया है की एक सोंची समझी साजिस के तहत आयशा ने अपनी भतीजी की हत्या की घटना को अंजाम दिया है और पाँच महीने की मासूम अलीशा को घर मे अकेला पाकर उठा ले गई, उसको अपने गोद मे खेलाया खूब लाड प्यार किया और मौका पाकर पानी से भरे सीवर मे मासूम अलीशा को डुबोकार भाग गई, इस बिच अचानक से अलिसा के घर से गायब होने के बाद उसकी चारों ओर खोज शुरू हो गई, उसी दौरान अलीशा की नानी घर मे स्थित बाथरूम मे पानी डालने के लिए सीवर से पानी निकालने पहुँची जैसे ही सीवर का ढक्कन हटाया तो देखा अलीशा उस सीवर मे है, जिसके बाद अलीशा की नानी अलीशा को सीवर से बाहर निकाल अपनी गोद मे लेकर जोर -जोर से चिल्लाने लगी चीखने चिलाने की आवाज सुन मौके पर घर के व आसपास के लोग इकठ्ठा हुए आनन -फानन मे अलीशा को आसनसोल जिला अस्पताल ले जाया गया जहाँ चिकित्सकों ने अलीशा को मृत घोषित कर दिया, जिसके बाद यह पता चला की अलीशा को पानी से भरे सीवर की तरफ उसकी चचेरी बुआ आयशा उर्फ़ शिफा प्रवीण ले गई थी, वहीं अलीशा के माता पिता के शिकायत के आधार पर बराकर थाना पुलिस ने आयशा को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की छानबिन मे जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *